जबलपुर| गैर-हिंदू डिलीवरी बॉय होने की वजह से कस्टमर का खाना लेने से इंकार, Zomato ने दिया मुंहतोड़ जवाब

fact check, zomato, Deepinder Goyal, social media, viral post, fake news,

फूड एप जोमेटो (Zomato) में एक कस्टमर ने खाना इसलिए कैंसिल कर दिया क्योंकि डिलिवरी बॉय मुस्लिम था. उसने किसी हिंदू डिलिवरी बॉय को भेजने को कहा और बाद में उसने ऑर्डर कैंसिल कर दिया. जिसके बाद जोमेटो ने ऐसा रिप्लाई दिया जिसको सोशल मीडिया पर लोग खूब पसंद कर रहे हैं. अमित शुक्ला ने ट्वीट करते हुए लिखा- ‘मैंने जोमेटो का ऑर्डर कैंसिल कर दिया है. उन्होंने मेरा खाना मुस्लिम राइडर को दिया साथ ही कहा कि वो राइडर चैंज नहीं कर सकते और पैसा रिफंड भी नहीं करेंगे.’

मध्य प्रदेश में कमलनाथ ने पूरा किया चुनावी वादा

मध्यप्रदेश के जबलपुर के रहने वाले अमित शुक्ला ने कई ट्वीट किए और बातचीत का स्क्रीनशॉट शेयर किया. उन्होंने बातचीत शेयर करते हुए कहा कि वो अपने वकील से इस मसले पर बात करेंगे. 

उन्होंने पहले ऑर्डर कैंसिल का स्क्रीनशॉट शेयर किया. जिसमें उनका ऑर्डर फैयाज ला रहे थे. उनकी जानकारी में दिया है कि वो जबलपुर के ही रहने वाले हैं, हिंदी और अंग्रेजी बोलना जानते हैं और हायर एजुकेशन की पढ़ाई पूरी करना चाहते हैं.

कांवड़ियों के पैर दबाते दिखे मुस्लिम विधायक, जय श्रीराम के नारे भी लगाए

दूसरे स्क्रीनशॉट उन्होंने बातचीत का डाला. जिसमें जोमेटो कस्टमर केयर ने लिखा- ‘हमारे पास काफी सवाल आ रहे हैं. जिसकी वजह से डिलिवरी में देरी हो रही है.’ जिसके बाद अमित ने लिखा- क्या आप राइडर को चेंज कर सकते हैं? जिसके बाद जोमेटो कस्टमर केयर ने पूछा- क्या हम जान सकते हैं कि समस्या क्या है? जिसके बाद उन्होंने लिखा- ‘हमारा श्रावण महीना चल रहा है और हमें मुस्लिम शख्स से खाना नहीं चाहिए.’ जिसके बाद जोमेटो की तरफ से मैसेज आया कि ऑर्डर कैंसिल करने पर पैसा वापस नहीं आए और उनको 237 रुपये नहीं मिलेंगे.

अमित शुक्ला के ट्वीट पर जोमेटो ने लिखा- ‘भोजन का कोई धर्म नहीं है. यह एक धर्म है.’

  सिंधिया को प्रदेशाध्यक्ष बनाने को लेकर कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा बयान

जिसके बाद जोमेटो का फाउंजर दीपिंदर गोयल ने ट्वीट करते हुए लिखा- ‘हमें भारत के विचार पर गर्व है – और हमारे सम्मानित ग्राहकों और भागीदारों की विविधता. हमें अपने मूल्यों के रास्ते में आने वाले किसी भी व्यवसाय को खोने का अफसोस नहीं है.’ इस ट्वीट के बाद लोग ट्विटर यूजर्स जोमेटो की खूब तारीफ कर रहे हैं. 

One Reply to “जबलपुर| गैर-हिंदू डिलीवरी बॉय होने की वजह से कस्टमर का खाना लेने से इंकार, Zomato ने दिया मुंहतोड़ जवाब”

  1. अमित शुक्ला ने सही किया — मै तो मुसलमानोको सामने भी खड़ा नही करता … सब मुसलमानोको मस्जिदमेसे मुल्ला मौलविने आदेश दिया है की काफिररोको ( हिंदू ) खानेकी चीज़मे मुतो या थुको और बाद मे खाने को दो … कई मुस्लिम पॉइज़न भी डालते है …श्रीलंका मे होटेल पर छापा पड़ा तो मुस्लिम खानेकी चीज़मे नापुसक होनेकी दवा डाली थी ये सच सामने आया …मूबाई (बॉम्बे) एक मंदिरके प्रसाद मे पॉइज़न डालके ४०००० श्रधालूकी जान लेनेकी फिराकमे मुस्लिम थे वो पकड़े गये …बॉम्बे एक नाई था (बार्बर ) वो एड का ब्लेड यूज़ करताता था वोभी पकड़ा गया मुसलमानोने हिदू के विरुद (अल तकिया) जिहाद पुकारा है मै अमित शुक्लाको सपोर्ट करता हू ….मई भी ऑनलाइन चीज़े मंगवा देता हू …और कंपनी को स्टॅंडिंग इन्स्ट्रक्षन देता हू …की मेरे पास कोई मुस्लिम डेलिवरी बॉय भेजनेका नही ये बात मेरी पसंद है तो चीज़े भेजनेका नही भेजनेका नही मै पहीलेहि क्लियर करता हू …बाद मे जन्जट नही रखता ….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *