राहुल ने स्वीकारा राज्यपाल का न्योता, पूछा- कब आ सकता हूं कश्मीर?

Jammu Kashmir, Governer Satyal Malik, Congress, Rahul gandhi, Twitter

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक का न्यौता स्वीकार कर लिया है. ट्विटर पर राहुल गांधी ने लिखा, ‘मलिक जी, मेरे ट्वीट पर आपके जवाब को मैंने देखा. मैं जम्मू-कश्मीर की यात्रा करने और लोगों से मुलाकात करने के आपके निमंत्रण को स्वीकार करता हूं. इसमें कोई भी शर्त नहीं जुड़ी है. मैं कब आ सकता हूं?’

राहुल गांधी ने सत्यपाल मलिक पर इशारों ही इशारों पर तंज भी कसा है. उन्होंने सत्यपाल मलिक के सरनेम को ‘मालिक’ लिखा है. उनका इशारा जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल होने पर था.

कश्मीर मामले में प्रियंका गांधी का पहला बयान, जानिए क्या कहा

वहीं राष्ट्रीय जनता दल ने राहुल गांधी की इस टिप्पणी पर राज्यपाल मलिक पर निशाना साधा है. आरजेडी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से शेयर किया, ‘मालिक जी के दो मालिक हैं. एक दिल्ली में बैठे हुए हैं. हामी आने से रही.’

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा था कि मैंने राहुल गांधी को यहां आने के लिए न्योता दिया है. मैंने उनसे कहा कि मैं आपके लिए विमान भेजूंगा ताकि आप स्थिति का जायजा लीजिए और तब बोलिए. आप एक जिम्मेदार व्यक्ति हैं और आपको ऐसे बात नहीं करनी चाहिए.

एक्शन मोड में सोनिया, ‘एक व्यक्ति-एक पद’ पर ले सकती हैं फैसला

rjd_081419120521.jpg

राहुल गांधी ने शनिवार की रात कहा था कि जम्मू-कश्मीर से हिंसा की कुछ खबरें आई हैं और प्रधानमंत्री मोदी को पारदर्शी तरीके से इस मामले पर चिंता व्यक्त करनी चाहिए. राज्यपाल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटाने में कोई सांप्रदायिक दृष्टिकोण नहीं है.

पूर्व गृहमंत्री पी. चिदंबरम ने जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक को आड़े हाथों लिया था. चिदंबरम ने कहा कि राहुल गांधी को भेजा गया निमंत्रण सामान्य नहीं है. यह एक तरह से प्रोपेगेंडा है. यह कहना गलत है कि राहुल गांधी की शर्तें बकवास हैं.

ओशो आश्रम की तीसरी मंजिल से कूद युवती ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा-बाप जिम्मेदार

राहुल ने सेना के जवानों के साथ कश्मीरियों से मिलने की आजादी मांगी है. यह कैसी स्थिति है. क्या कोई भी समाज के सभी तबकों और जवानों से मिलने की स्वतंत्रता की मांग नहीं कर सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *